Sunday, October 1, 2017

बड़ी मजिलो के यहाँ इंतकाम बड़े बड़े !

बड़ी मजिलो के यहाँ इंतकाम बड़े बड़े ,
हादसों के शहर ये मेरे ,पर नाम बड़े बड़े

मोहब्बत को जरा संभाल के ही चलना यहां,
मिले हे नफरत रखने वालो से अंजाम बड़े-२

मुझे मेरे माफिक मेरी मर्जी से जी लेने दे ,
फिर आज आये हे, देने वो मुझे पैगाम बड़े-२

थोड़े और सबर की मुझे आज जरूरत पडी हे ,
इम्तिहान ज्यादा हे मेरे हे क्योकि काम बड़े-२

Pawan .......!!

No comments:

Post a Comment